In the name of treating Corona, screws on the hospitals that recover more from family members, a three-member committee will investigate | कोरोना इलाज करने के नाम पर अधिक वसूली करने वाले अस्पतालों पर शिकंजा, तीन सदस्यीय कमेटी करेगी जांच

  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Faridabad
  • In The Name Of Treating Corona, Screws On The Hospitals That Recover More From Family Members, A Three member Committee Will Investigate

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
डीसी ने अनियमितता पाए जाने पर तुरंत कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। - Dainik Bhaskar

डीसी ने अनियमितता पाए जाने पर तुरंत कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

बल्लभगढ स्थित जेनिथ अस्पताल पर प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इस अस्पताल पर कोरोना संक्रमित का इलाज करने के बदले परिजनों से मोटी रकम वसूलने के मामले में डीसी यशपाल यादव नेे एसडीएम की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी बनाकर पूरे मामले की जांच करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। लेकिन वहां पर न तो कोई डाॅक्टर मिला और न ही सरकार द्वारा निर्धारित की गई रेट लिस्ट का बोर्ड। इस पर डीसी ने नाराजगी जताई और कार्रवाई करने के संकेत दिए।

अस्पताल ने किया नियमाें का उल्लंघन
बता दें कि शिकायत मिलने के बाद डीसी ने अस्पताल का औचक निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान अस्पताल में कोई भी चिकित्सक नहीं मिला। काफी देर बाद एक चिकित्सक वहां पर पहुंचा। अस्पताल में किसी भी तरह की चिकित्सा जांच एवं इलाज के रेट की सूची डिस्प्ले नहीं की गई थी। उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह से नियमों का उल्लंघन है। डीसी ने मौके पर माौजूद एसडीएम अपराजिता काो इस संबंध में आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत कार्यवाई करते हुएतीन सदस्यीय कमेटी बनाकर जांच के आदेश दिए गए हैं। कमेटी में एसडीएम बल्लभगढ़ अपराजिता, एसीपी बल्लभगढ़ व सीएमओ द्वारा नामित एक वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी को शामिल किया गया है। जांच टीम 15 दिनों में अस्पताल में भर्ती हुए मरीजों से पूरी रिपोर्ट तैयार करेगी और 3 दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।इसके बाद अस्पताल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…

Source link

thenewhind
Author: thenewhind

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *