West Bengal Election 2021 Phase 7 Polling LIVE Update; Mamata Banerjee TMC BJP Party | Vidhan Sabha Voting Percentage Latest News Today | कोरोना के बीच बंगाल में 5 जिलों की 36 विधानसभा सीटों पर वोटिंग, 37 महिलाओं समेत 268 उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर

  • Hindi News
  • National
  • West Bengal Election 2021 Phase 7 Polling LIVE Update; Mamata Banerjee TMC BJP Party | Vidhan Sabha Voting Percentage Latest News Today

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोलकाता17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सातवें चरण के मतदान को लेकर पो� - Dainik Bhaskar

सातवें चरण के मतदान को लेकर पो�

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के सातवें चरण के लिए आज वोटिंग है। इस चरण में 36 सीटों पर मतदान होना है। यहां कुल 268 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। इनमें 37 महिला उम्मीदवार भी मैदान में हैं। वहीं प्रदेश में कोरोना ने 14 हजार के आंकड़े को पार कर दिया। अब तक 59 लोगों की मौत हो चुकी है।

जिन 36 सीटों पर मतदान होना है, वे 5 जिलों में फैली हुई हैं। इनमें दक्षिण दिनापुर और मालदा जिले की 6-6, मुर्शिदाबाद की 11, कोलकाता की 4 और बर्दवान की 9 विधानसभा सीटें शामिल हैं।आठवें और आखिरी चरण में 35 विधानसभा सीटों पर 29 अप्रैल को मतदान होना है।

खदहड़ से तृणमूल कैंडिडेट की कोरोना से मौत
इससे पहले रविवार को सुबह 9.45 पर खदहड़ विधानसभा से तृणमूल के उम्मीदवार काजल सिन्हा का कोरोना से देहांत हो गया था। उन्हें 22 अप्रैल को संक्रमित होने के बाद बेलियाघाटा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके निधन पर TMC प्रमुख ममता बनर्जी ने शोक जताया है।

ममता ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर लिखा कि मैं बहुत दुखी हूं, हैरान हूं। काजल सिन्हा, जो हमारे खदहड़ से उम्मीदवार थे, कोरोना की वजह से उनका निधन हो गया। वे बहुत सालों से राजनीति में थे और तृणमूल कांग्रेस के प्रतिबद्ध सदस्य थे। हम उन्हें हमेशा याद करेंगे। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति हमारी संवेदना है।

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए चुनाव आयोग ने की थी सख्ती
इससे पहले गुरुवार को चुनावी कैंपेन के दौरान राजनीतिक दलों की तरफ से कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने पर इलेक्शन कमीशन ने सख्त रुख अपनाया था। EC ने बंगाल में चुनाव प्रचार के लिए नई गाइडलाइन जारी की थी। इसके तहत रोड शो, पद यात्रा, साइकिल रैली या बाइक रैली को इजाजत नहीं दिए जाने के निर्देश थे। सभा में 500 से ज्यादा लोग इकट्ठा होने पर रोक थी। इसको लेकर राजनीतिक दलों पर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर EC ने फटकार भी लगाई थी।

खबरें और भी हैं…

Source link

thenewhind
Author: thenewhind

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *