Outpost incharge had to beat two young men expensive; Villagers besiege the post, two soldiers injured in protest | दो युवकों की पिटाई चौकी इंचार्ज को पड़ी भारी; ग्रामीणों ने चौकी का किया घेराव, प्रदर्शन में दो सिपाही घायल

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Outpost Incharge Had To Beat Two Young Men Expensive; Villagers Besiege The Post, Two Soldiers Injured In Protest

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायबरेली19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रायबरेली में सरेनी थाना क्षेत्र अन्तर्गत पुलिस चौकी भोजपुर की कार्यशैली से नाराज ग्रामीणों ने पुलिस चौकी घेरकर प्रदर्शन शुरू कर दिया।

  • आरोप है कि चोरी के झूठे मामले में गांव के दो युवकों की बर्बरता पूर्व पिटाई की थी

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में सरेनी थाना क्षेत्र अन्तर्गत पुलिस चौकी भोजपुर की कार्यशैली से नाराज ग्रामीणों ने पुलिस चौकी घेरकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान ग्रामीण और पुलिस में झड़प हुई जिसमें दो सिपाही चोटिल हुए हैं। दरअसल बुधवार को चोरी के झूठे मामले में दो युवकों को पुलिस द्वारा निर्मम ढंग से पीटे जाने से ग्रामीण नाराज थे।

जानकारी के अनुसार, सरेनी थाना क्षेत्र के भोजपुर गांव के व्यापारियों व ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस चौकी भोजपुर के खाकी धारियों ने बुधवार को चोरी के झूठे मामले में गांव के दो युवकों की बर्बरता से पिटाई की थी। इस बात से नाराज व्यापारियों व ग्रामीणों ने गुरुवार को चौकी का घेराव किया। ग्रामीण चौकी इंचार्ज और दो सिपाहियों को सस्पेंड करने की मांग पर अड़ गए। व्यापारियों का कहना था कि जब तक तीनों हटाए नहीं जाएंगे तब तक घेराव जारी रहेगा।

सोने की चेन और अंगूठी चुराने का आरोप

उन्नाव जिले के शुक्लागंज कस्बे के ऋषि नगर मोहल्ले के रहने वाला सोनू सोमवार को शराब के नशे में धुत भोजपुर की सब्जी मंडी में पड़ा था। लोगों ने इसकी सूचना उनके रिश्तेदार भोजपुर गांव के रहने वाले राजू तिवारी पुत्र दुर्गाशंकर व घर में मौजूद उन्नाव जिले के रामपुर गांव के रहने वाले बबलू को दी। तो दोनों उसे अपने घर उठा ले गए, लेकिन सुबह जब सोनू का नशा उतरा तो उसने कहा कि मेरी सोने की चेन व अंगूठी गायब है।

इस बाबत सोनू ने चौकी इंचार्ज भोजपुर शशि भदौरिया को प्रार्थना पत्र दिया। पुलिस ने राजू को बुलाकर पूछताछ किया लेकिन सोनू की सहमति से दोनों पक्षों में समझौता हो गया। बुधवार को चौकी इंचार्ज ने दोनों को बुलाकर बेरहमी से पिटाई की, इसी बात से नाराज गुरुवार को व्यापारी व ग्रामीणों ने चौकी का घेराव किया और चौकी इंचार्ज वा दोनों सिपाहियों को सस्पेंड करने की मांग पर अड़ गए।

Source link

thenewhind
Author: thenewhind

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *